Saturday, 28 July 2012

तब कितना डर गई थी वो


अगर स्वयम्बरा जी झूठ नहीं बोलती ( वैसे मैं महिलाओं का विश्वास नहीं करता कि - वे सच ही बोलती हैं ) तो इनसे ( ब्लाग से ) जुङना काफ़ी फ़ायदेमन्द है । क्योंकि इनको बहुत सारे कार्य आते हैं । जैसे - अध्यापन । गाना । नाटकों को निर्देशित करना । अभिनय करना । नृत्य सिखाना । नये नये व्यंजन बनाना । समाज के लिए कुछ अच्छा करना आदि आदि । देखा आपने । इसीलिये मैंने कहा था - स्वयम्बरा जी से जुङना फ़ायदेमन्द है । आईये ब्लागर परिचय श्रंखला के अंतर्गत इनका परिचय जानते हैं ।  
इनका शुभ नाम है - स्वयम्बरा । और इनकी Industry है - Education और 

इनकी Location है - ara, bihar, India स्वयम्बरा जी अपने Introduction में कहती हैं - कई पड़ाव आये । अनगिनत मोड़ों से गुज़रना हुआ । फिलहाल अध्ययन अध्यापन के साथ अपनी संस्था 'यवनिका' के कार्यों में व्यस्त हूँ । शब्द सृज़न मेरी जरुरत नहीं । हाँ ! कभी कभी एक बेचैनी सी होती है । अहसासों को मूर्त रूप देना जरुरी सा हो जाता है । ये ब्लॉग शायद  इसीलिये है । और इनका Interests है - परिवार के साथ वक़्त बिताना । लिखना पढना । गाना । नाटकों को निर्देशित करना । अभिनय करना ( हालाँकि अब ये नहीं हो पाता ) नृत्य सिखाना ( ट्रेंड इन कथक ) नये नये व्यंजन बनाना । समाज के लिए कुछ अच्छा करना । और इनकी
Favourite Films हैं - i m film buff.i just love good movies और इनका Favourite Music है - music is my passion.i am trend in classical लोग कहते हैं कि मैं अच्छा गाती हूँ । मजाक नहीं । सचमुच । और इनकी Favourite Books हैं - when i feel alone, i read books.they r my best friend. और इनके ब्लाग्स हैं - मैं और मेरी दुनिया । खबर गंगा । ब्लाग के नाम पर क्लिक करें । 

और ये है ।  इनके ब्लाग से एक रचना -
बड़की की अम्मा । निहार रही है दरवाज़े को । बड़की के बापू आयेंगे, खुशखबरी लायेंगे ।
कि बड़की पसंद आ गई है उन्हें । कि बड़की का व्याह तय हो गया है । कितना तो डर गई थी वो ।
वही उसी दिन । जब आए थे लड़के वाले । बडकी को चलाया । हंसाया बुलवाया । अंग अंग नापा परखा । 
हिलाया डुलाया । बात सीधे जा रही थी कि । 'लहसन' के दाग पर । अटक गयी लड़के की बहन ।
कितना तो समझाया बताया । कि ये वो नहीं । पर न मानी थी ।

उस जगह कसकर चिकोटी काटी, सुई चुभोई । बडकी के 'आंसू' निकले । तभी संतोष मिला उन्हें ।
आज उसके बापू गए है वहाँ । बात पटाने मोल भाव करने । जनमते ही तो दहेज़ जुटाना शुरू कर दिया था । पर क्या करे । कल जो हजारों में मिलते थे । आज लाखो खरचने पर भी नहीं मिलते ।
( लहसन - वैसा सफ़ेद दाग । जो जन्म से ही शरीर पर हो । इनमें सुई चुभोने पर दर्द का अहसास होता है )

Friday, 27 July 2012

सबको अपने प्यार पर नाज होता है


ब्लाग वर्ल्ड काम के इस सहयोगी ब्लाग पर किसी अच्छे ब्लाग और ब्लागर का परिचय कराने की कोशिश हमेशा से की जाती रही है । आज भी इसी कङी में बिहार के ब्लागर रिंकू सिवान से परिचय कीजिये ।
हर धङकन में एक राज होता है । हर बात को बताने का एक अंदाज होता है । जब तक ठोकर न लगे बेवफ़ाई की । हर किसी को अपने प्यार पर नाज होता है । बिलासपुर बिहार के रिंकू सिवान का ब्लाग ऐसी ही मजेदार शेरो शायरी चुटकलों से भरपूर है । इसके अतिरिक्त COMPUTER के TIPS & TRICKS भी आपको इस ब्लाग पर मिलते हैं । इसलिये रिंकू सिवान के परिचय के साथ आप इनके ब्लाग पर सहर्ष भृमण कर सकते हैं । इनका शुभ नाम है - रिंकू सिवान । और इनकी Industry है -Government और इनकी Location है - सिवान बिलासपुर  बिहार India और ये अपने Introduction में करते रहते है - हमेशा कुछ नया करने की कोशिश । और इनका Interests है - फिल्म । इंटरनेट । ब्राउसिंग । और इनकी Favourite Films हैं । सिर्फ़ ये 2 - लगान । फैशन । और इनका Favourite Music है - पुराने गीत । और अफ़सोस कि इनकी Favourite Books है - कोई नहीं ।
और इनके ब्लाग्स हैं - MAD LAB Rinku Mobile SMS COMPUTER TIPS & TRICKS ब्लाग के नाम पर क्लिक करें
और ये हैं । रिंकू सिवान के ब्लाग से कुछ रचनायें -
जब तनहाई में आपकी याद आती है । होठों पे एक ही फ़रियाद आती है ।


खुदा आपको हर खुशी दे । क्योंकि आज भी हमारी । हर खुशी आपके बाद आती है ।
****
मेरे दोस्त तुम भी लिखा करो शायरी । तुम्हारा भी मेरी तरह नाम हो जायेगा ।
जब तुम पर भी पङेंगे अंडे और टमाटर । तो शाम की सब्जी का इंतजाम हो जायेगा ।
*****
हर धङकन में एक राज होता है । हर बात को बताने का एक अंदाज होता है ।
जब तक ठोकर न लगे बेवफ़ाई की । हर किसी को अपने प्यार पर नाज होता है ।
***
Customer - 1 किलो गाय का दूध देना ।
Shopkeper - लेकिन तुम्हारा बर्तन तो बहुत छोटा है ।
Customer - ठीक है । तो फ़िर बकरी का  दे दो ।
**********
Friendship is a cheque of $ HAPPY/- 
When u feel upset and alone withdraw 


it from my account. when u are too happy 
deposit it in my heart 
********
फेसबुक इस्तेमाल करते हैं । तो सावधान हो जायें ।
अगर आप फेसबुक इस्तेमाल करते हैं । तो सावधान हो जायें । क्योंकि फेसबुक इस्तेमाल करने वालों के कंप्यूटर को एक नए तरह के वाइरस से खतरा हो सकता है । इसमें फेसबुक इस्तेमाल करने वालो को एक ई-मेल भेजा जाता है । और ये ई मेल देखने में बिलकुल कम्पनी के ई मेल जैसा दीखता है । और इसका नाम "फोटो अलर्ट" रखा गया है ।
जैसे ही कोई इस ई मेल में दिए गये लिंक को क्लिक करता है । उसे फेस बुक 


की जगह दुसरे साइट पर भेज दिया जाता है । और उस साइट पर जाते ही कंप्यूटर में वाइरस आ जाता है
http://siwanrinku.blogspot.in/2012/07/blog-post_2663.html क्लिक करें ।
एक से एक पकवान बनाने की विधि हिंदी में ।
http://nishamadhulika.com/ क्लिक करें ।
10 वेबसाइट जहाँ से आप हिंदी गाने डाउनलोड कर सकते हैं ।
http://siwanrinku.blogspot.in/2012/05/10.html क्लिक करें ।
रेल समय-सारणी हिंदी में ।
अगर आपको किसी ट्रेन के बारे में जानकारी चाहिये । या फिर आप ये जानना चाहते है कि दिल्ली से मुम्बई के लिए कौन कौन सी ट्रेन है ? या फिर आपके द्वारा लिये गये वेटिंग टिकट की स्थिति क्या है ? तो आप hindi.indiarailinfo.com के वेबसाइट की मदद ले सकते हैं । इस वेबसाइट पर सारी जानकारी हिंदी में होती है ।
इसके आलावा आप erail.in नाम के वेबसाइट से भी ये सारी जानकारी ले सकते है ।
http://siwanrinku.blogspot.in/2012/01/blog-post.html क्लिक करें ।
*****


The mind is a bundle of thoughts. The thoughts arise because there is the thinker. The thinker is the ego. The ego, if sought, will automatically vanish. The ego and the mind are the same. The ego is the root-thought from which all other thoughts arise. Ramana Maharshi
साभार सभी जानकारी रिंकू सिवान के ब्लाग - COMPUTER TIPS & TRICKS से

Monday, 23 July 2012

Keyboard Shorcuts - Microsoft Windows


Keyboard Shorcuts ( Microsoft Windows )
1 CTRL+C ( Copy )
2 CTRL+X ( Cut )
3 CTRL+V ( Paste )
4 CTRL+Z ( Undo )
5. DELETE ( Delete )
6 SHIFT+DELETE ( Delete the selected item permanently without placing the item in the Recycle Bin )
7 CTRL while dragging an item ( Copy the selected item )
8 CTRL+SHIFT while dragging an item ( Create a shortcut to the selected item )
9 F2 key ( Rename the selected item )
10 CTRL+RIGHT ARROW ( Move the insertion point to the beginning of the next word )
11 CTRL+LEFT ARROW ( Move the insertion point to the beginning of the previous word )
12 CTRL+DOWN ARROW ( Move the insertion point to the beginning of the next paragraph )
13 CTRL+UP ARROW ( Move the insertion point to the beginning of the previous paragraph )
14 CTRL+SHIFT with any of the arrow keys ( Highlight a block of text )
SHIFT with any of the arrow keys (Select more than one item in a window or on the desktop, or select text in a document)
15 CTRL+A ( Select all )
16 F3 key ( Search for a file or a folder )
17 ALT+ENTER ( View the properties for the selected item )
18 ALT+F4 ( Close the active item, or quit the active program )

19 ALT+ENTER ( Display the properties of the selected object )
20 ALT+SPACEBAR ( Open the shortcut menu for the active window )
21 CTRL+F4 ( Close the active document in programs that enable you to have multiple documents opensimultaneously )
22 ALT+TAB ( Switch between the open items )
23 ALT+ESC ( Cycle through items in the order that they had been opened )
24 F6 key ( Cycle through the screen elements in a window or on the desktop )
25 F4 key ( Display the Address bar list in My Computer or Windows Explorer )
26 SHIFT+F10 ( Display the shortcut menu for the selected item )
27 ALT+SPACEBAR ( Display the System menu for the active window )
28 CTRL+ESC ( Display the Start menu )
29 ALT+Underlined letter in a menu name ( Display the corresponding menu ) Underlined letter in a command name on an open menu ( Perform the corresponding command )
30 F10 key ( Activate the menu bar in the active program )
31 RIGHT ARROW ( Open the next menu to the right, or open a submenu ) 
32 LEFT ARROW ( Open the next menu to the left, or close a submenu )
33 F5 key ( Update the active window )
34 BACKSPACE ( View the folder onelevel up in My Computer or Windows Explorer )
35 ESC (Cancel the current task)

36 SHIFT when you insert a CD-ROMinto the CD-ROM drive ( Prevent the CD-ROM from automatically playing )
Dialog Box - Keyboard Shortcuts
1 CTRL+TAB ( Move forward through the tabs )
2 CTRL+SHIFT+TAB ( Move backward through the tabs )
3 TAB ( Move forward through the options )
4 SHIFT+TAB ( Move backward through the options )
5 ALT+Underlined letter ( Perform the corresponding command or select the corresponding option )
6 ENTER ( Perform the command for the active option or button )
7 SPACEBAR ( Select or clear the check box if the active option is a check box )
8 Arrow keys ( Select a button if the active option is a group of option buttons )
9 F1 key ( Display Help )

10 F4 key ( Display the items in the active list )
11 BACKSPACE ( Open a folder one level up if a folder is selected in the Save As or Open dialog box )

Microsoft Natural Keyboard Shortcuts
1 Windows Logo ( Display or hide the Start menu )
2 Windows Logo+BREAK ( Display the System Properties dialog box )
3 Windows Logo+D ( Display the desktop )
4 Windows Logo+M ( Minimize all of the windows )
5 Windows Logo+SHIFT+M ( Restorethe minimized windows )
6 Windows Logo+E ( Open My Computer )
7 Windows Logo+F ( Search for a file or a folder )
8 CTRL+Windows Logo+F ( Search for computers )
9 Windows Logo+F1 ( Display Windows Help )
10 Windows Logo+ L ( Lock the keyboard )

11 Windows Logo+R ( Open the Run dialog box )
12 Windows Logo+U ( Open Utility Manager )
13 Accessibility Keyboard Shortcuts
14 Right SHIFT for eight seconds ( Switch FilterKeys either on or off )
15 Left ALT+left SHIFT+PRINT SCREEN ( Switch High Contrast either on or off )
16 Left ALT+left SHIFT+NUM LOCK ( Switch the MouseKeys either on or off )
17 SHIFT five times ( Switch the StickyKeys either on or off )
18 NUM LOCK for five seconds ( Switch the ToggleKeys either on or off )
19 Windows Logo +U ( Open Utility Manager )
20 Windows Explorer Keyboard Shortcuts
21 END ( Display the bottom of the active window )
22 HOME ( Display the top of the active window )
23 NUM LOCK+Asterisk sign (*) ( Display all of the subfolders that are under the selected folder )
24 NUM LOCK+Plus sign (+) ( Display the contents of the selected folder )
25 NUM LOCK+Minus sign (-) ( Collapse the selected folder )
26 LEFT ARROW ( Collapse the current selection if it is expanded, or select the parent folder )
27 RIGHT ARROW ( Display the current selection if it is collapsed, or select the first subfolder )
Shortcut Keys for Character Map


After you double-click a character on the grid of characters, you can move through the grid by using the keyboard shortcuts:
1 RIGHT ARROW ( Move to the rightor to the beginning of the next line )
2 LEFT ARROW ( Move to the left orto the end of the previous line )
3 UP ARROW ( Move up one row )
4 DOWN ARROW ( Move down one row )
5 PAGE UP ( Move up one screen at a time )
6. PAGE DOWN ( Move down one screen at a time )
7. HOME ( Move to the beginning of the line)
8 END ( Move to the end of the line )
9 CTRL+HOME ( Move to the first character )
10 CTRL+END ( Move to the last character )
11 SPACEBAR ( Switch between Enlarged and Normal mode when a character is selected )
Microsoft Management Console ( MMC )
Main Window Keyboard Shortcuts


1 CTRL+O ( Open a saved console )
2 CTRL+N ( Open a new console )
3 CTRL+S ( Save the open console )
4 CTRL+M ( Add or remove a console item )
5 CTRL+W ( Open a new window )
6 F5 key ( Update the content of all console windows )
7 ALT+SPACEBAR ( Display the MMC window menu )
8 ALT+F4 ( Close the console )
9 ALT+A ( Display the Action menu )
10 ALT+V ( Display the View menu )
11 ALT+F ( Display the File menu ) 
12 ALT+O ( Display the Favorites menu )

MMC Console Window Keyboard Shortcuts
1. CTRL+P ( Print the current page or active pane )
2. ALT+Minus sign (-) ( Display the window menu for the active console window )
3. SHIFT+F10 ( Display the Action shortcut menu for the selected item )

4. F1 key ( Open the Help topic, if any, for the selected item )
5. F5 key ( Update the content of all console windows )
6. CTRL+F10 ( Maximize the active console window )
7. CTRL+F5 ( Restore the active console window )
8. ALT+ENTER ( Display the Properties dialog box, if any, for theselected item )
9. F2 key ( Rename the selected item )
10. CTRL+F4 ( Close the active console window. When a console has only one console window, this shortcut closes the console )
Remote Desktop Connection Navigation
1. CTRL+ALT+END ( Open the Microsoft Windows NT Security dialog box )
2. ALT+PAGE UP ( Switch between programs from left to right )
3. ALT+PAGE DOWN ( Switch between programs from right to left )
4. ALT+INSERT ( Cycle through the programs in most recently used order )
5. ALT+HOME ( Display the Start menu )
6 CTRL+ALT+BREAK ( Switch the client computer between a window and a full screen )
7 ALT+DELETE (Display the Windows menu)
8 CTRL+ALT+Minus sign (-) ( Place a snapshot of the active window in the client on the Terminal 


server clipboard and provide the same functionality as pressing PRINT SCREEN on a local computer.)
9 CTRL+ALT+Plus sign (+) (Place asnapshot of the entire client window area on the Terminal server clipboardand provide the same functionality aspressing ALT+PRINT SCREEN on a local computer.)

Microsoft Internet Explorer Keyboard Shortcuts
1 CTRL+B ( Open the Organize Favorites dialog box )
2 CTRL+E ( Open the Search bar )
3 CTRL+F ( Start the Find utility )
4 CTRL+H ( Open the History bar )
5 CTRL+I ( Open the Favorites bar )
6 CTRL+L ( Open the Open dialog box )
7 CTRL+N ( Start another instance of the browser with the same Web address )
8 CTRL+O ( Open the Open dialog box,the same as CTRL+L )
9 CTRL+P ( Open the Print dialog box ) 
10 CTRL+R ( Update the current Web page )
11 CTRL+W ( Close the current window )

लेकिन कबीर ने यह सब कहाँ कहा है ?

क्योंकि मैं भी आत्म ज्ञान अध्ययन शाखा का एक छोटा सा छात्र हूँ । अतः झारखण्ड की तनुजा जी के ब्लाग - तनुजा ठाकुर.. ने मुझे तुरन्त आकर्षित किया । लेकिन इनका ब्लाग देखने पढने के बाद मुझे एक कनफ़्यूजन सा हो गया कि कबीर ने यह सब कहाँ कहा है ? शायद किसी और किताब में कहा हो । जो खास तनुजा जी ने पढी हो । जैसे - गो मूत्र गंगाजल आदि से नहाना । तमाम धार्मिक आडम्बर टोटके करना । इनके फ़ेसबुक पेज पर दिये नम्बर पर फ़ोन करने से मालूम हुआ । कबीर वाले आत्मज्ञान ? क्के साधकों को रोज 11 कर माला भी फ़ेरना चाहिये ।  चलिये कबीर को फ़िर से पढूँगा । फ़िलहाल आप भी देखें । और इनके ब्लाग लिंक पर क्लिक करें ।
ये एक शुभ लक्षण है कि इंटरनेट पर तमाम मनोरंजक ज्ञानवर्धक और अश्लील साइटस के साथ साथ धर्म प्रसार और भक्ति प्रसार की साइटस ब्लाग भी हैं । ऐसा ही एक लिंक हमारे परिचित ने भेजा । तो मैंने आत्मज्ञान से जुङे इस ब्लाग का अध्ययन किया । भक्ति का ज्ञान और प्रेरणा देते हुये कई लेख तनुजा जी द्वारा इस पर पोस्ट किये गये हैं । अतः यदि आप भी धर्म कर्म में रुचि रखते हैं । तो फ़िर ये ब्लाग पढना आपके लिये फ़ायदेमन्द हो सकता है । बाकी तो वही बात है - अर्जी हमारी मर्जी  तुम्हारी । आईये अब इनके परिचय पर एक निगाह डालें । इनका शुभ नाम है - तनुजा ठाकुर । और इनका Occupation है - Hindu dharma prasarak और इनका Location है jharkhand India और इनका Introduction है - you can also join my page on facebook for more spiritual inputs and the page id is http://www.facebook.com/pages/Tanuja-Thakur/261125813842?ref=sgm और इनका सम्पर्क नम्बर - 0 99998 61908 है । और इनका ब्लाग है - तनुजा ठाकुर । ब्लाग नाम पर क्लिक करें ।
और ये इनके ब्लाग से एक रचना - 
’जैसे हो अधिकार वैसे करें उपदेश’’  इस कथन अनुसार संत मार्गदर्शन करते हैं । एक बार हमारे श्रीगुरु ने एक 

सत्संग में एक छोटी सी प्रेरक कथा सुनाई थी । वह आपको बताती हूँ ।
एक बार स्वामी रामकृष्ण परमहंस के पास एक भक्त आया । वह थोड़ा विचलित था ।  स्वामीजी ने पूछा - ‘क्या हुआ ? भक्त ने कहा - चौराहे पर एक व्यक्ति आपको अपशब्द कह रहा है । स्वामीजी ने कहा - वह तुम्हारे गुरु को अपशब्द कह रहा था । और तुम सुन कर आ गए । जाओ उसे रोको । और वह शांत न हो । तो एक थप्पड़ लगाना । अभी वह निकल कर गया था कि एक दूसरा भक्त आया । उसके सिर से  खून बह रहा था । स्वामीजी ने पूछा - क्या हुआ । यह खून कैसा ?  दूसरे भक्त ने कहा - चौराहे पर एक व्यक्ति आपको अपशब्द कह रहा था । मुझे सहन नहीं हुआ । और मैंने उसे मारा । और इसी हाथापाई में मुझे चोट लग गयी । स्वामीजी ने प्रेम से झिड़कते हुए कहा - कितनी बार कहा है तुम्हें कि सभी में काली माँ है । इस प्रकार किसी पर हाथ नहीं उठाते । शिष्य ने सिर झुका स्वामीजी से क्षमा मांगी । ऐसा स्वामीजी ने क्यों किया ?
पहले भक्त की  गुरू पर निष्ठा कम थी । अतः स्वामीजी ने उसे जो भी उसके गुरु का विरोध करे । उसका विरोध करने के प्रेरणा दी । दूसरे भक्त का प्रवास सगुण से निर्गुण की ओर हो रहा था । अतः स्वामीजी  ने उसे सर्वत्र काली के स्वरूप को देखने सीख दी । क्या इतना सूक्ष्म अभ्यास करने वाला अध्यात्म शास्त्र अन्य धर्मो में है ?

Monday, 16 July 2012

भाव बड़ा खाती हैं ये लड़कियाँ


मेरे ब्लॉग साईट का नारा इंसान और इंसानियत अथवा मानव और मानवता हैं । बचपन से लिखने का शौक हैं । कभी कभी सोचकर लिखता हूँ । तो कभी कभी शब्द खुद ही जहन में आकर लिखने को मजबूर करते हैं । I am a simple reliable diligent honest true sensitive Tolerant  polite  gentle  Emotional  Self respecting and Compassionate person मैं एक सरल । विश्वसनीय । मेहनती । ईमानदार । सच्चा । संवेदनशील । सहनशील । विनमृ । कोमल । भावुक । स्वाभिमानी और दयावान व्यक्ति हूँ । I am a Bhojpuri,Hindi and English blog writer . i do not care what i write is right or wrong because i write from heart and heart is always right . I am a human and my religion and my work is to serve humanity . First I am a human , second an indian . I am proud to be a human . I am vivek human . My hobbies are listening music , watching movies , net surfing and chatting  making friends . और इनका ब्लाग है - सर्व सेवा समाज । ब्लाग पर जाने हेतु नाम पर क्लिक करें ।
and know more About Me
I have interest in reading,writing,speaking, acting, singing  dancing , driving , swimming and social works
My religion is to serve humanity. I know i am born in a hindhu family but i do not believe in religion, caste, region, langauge,colour etc. because i consider myself as a human.

I think I should be knowledge of three languages bhojpuri,hindi and english because bhojpuri is regional language and mother language, hindi is national language and english is international language.
1 मैं अपने जीवन में सिर्फ अपनी परिश्रम में विश्वास करता हूँ । और इसको अपनी सफलता का मूल मंत्र मानता हूँ । और माता पिता तथा ईश्वर के अशीर्बाद की कामना करता हूँ । यदि मुझे अपने जीवन में सफल होना है ।
2 मैं किसी की चापलूसी । चमचागिरी और जी हजुरी करके कामयाब होना नहीं चाहता । मैं इसके सख्त खिलाफ हूँ ।
3 न तो मैं हिंदू हूँ । न मुसलमान हूँ । न सिख हूँ । न ईसाई हूँ ।  न तो मैं राजपूत हूँ । न अहीर हूँ । न जाट हूँ । न गुज्जर हूँ । न तो मैं बिहारी हूँ । न बंगाली हूँ । न असमी हूँ । न गुजराती हूँ । मैं तो एक इन्सान हूँ । और इंसानियत ही मेरा धर्म है ।  और इंसान की सेवा ही मेरा कर्म हैं । ये मेरा सन्देश है ।
खुदी को कर बुलंद इतना कि हर तकदीर से पहले । खुदा बन्दे से पूछे बता तेरी रजा क्या है ? 
उध्मेना ही सिध्यन्ति कार्यनी न मनोरथै - सफलता । उधम । परिश्रम और प्रयास से प्राप्त होती हैं । केवल मन के चाहने से नहीं - किसी की पंक्ति 

जो व्यक्ति जीवन में कुछ पाना चाहते हैं । यदि वे दृढ मत और एकाग्र चित हों । तो उन्होंने जो कुछ और जैसे भी चाहा था । उसे वे प्राप्त कर सकेंगे - एपीजे अब्दुल कलम की पुस्तक विसिओं 2020 से 
न पूछो मेरी मंजिल कहा हैं । अभी तो सफ़र का इरादा किया है । न हारेंगे हौसला उमृ भर । हमने किसी और से नहीं । खुद से वादा किया है । 
winner's don't do different things, they do things differently ( from shiv khera's book jeet aapki-you can win )
राह पकड़ तू एक चलाचल पा जाऐगा मधुशाला ( by anyone )
--ooo--
ये पंक्तियाँ मुझे प्रेरणा देती हैं ।
जाने क्यों ऐसी होती हैं लड़कियाँ । नखरे कितने करती हैं लड़कियाँ । 
डाट पङी कि आंसू बहाती हैं लड़कियाँ । जाने क्यों ऐसी होती हैं लड़कियाँ ? 
भाव बड़ा खाती हैं लड़कियाँ । बेकार की बातें करती हैं लड़कियाँ । 
दिलों से कितने खेलती हैं लड़कियाँ । चैट किसी से कॉल किसी को करती हैं लड़कियाँ । 
घमंड इतना क्यों करती हैं लड़कियाँ । कितने बहाने बनाती हैं लड़कियाँ । 

मजाक किसी से प्यार किसी को करती हैं लड़कियाँ । जाने ऐसे सितम क्यों करती हैं लड़कियाँ ? 
सुन्दरता के पीछे भागती हैं लड़कियाँ । दोस्ती करके निभाती नहीं लड़कियाँ । 
ऐसे ये क्यों होती हैं लड़कियाँ ? नखरे कितने करती हैं लड़कियाँ । 
जाने क्यों ऐसी होती हैं लड़किया ?
- मैं ये ब्लॉग लिखकर लडकियों की भावनाओ को चोट नहीं पहुँचाना चाहता । मैं तो इस ब्लॉग के माध्यम से उन थोङी लडकियों को सन्देश देना चाहता हूँ । जो इस तरह के कार्य करती हैं ( सुन्दरता पर घमंड । दिलो से खिलवाड़ । विश्वासघात इत्यादि ) मैं पूनम जी । अंजू जी । ज्योति गुप्ता जी और ममता जी का शुक्रिया अदा करता हूँ । जिन्होंने ये सुझाव मुझे दिया । आप सबका धन्यवाद 
--ooo--
I have nothing but I have character.
glad I am, because I have good conduct
according to a saying character is lost everything is lost.
it's right I am giving you an example.
when you make stupid thing, 
you feel bad after doing this thing,
except this if you do well ,you feel better.

try to do well ,I say to you you will feel better.
our all activities are related to our character and conduct,
when we will die ,people will not remember us,
they will remember our good works,,
and these good works make our good character and conduct,
I have nothing but I have character.
glad I am, because I have good conduct,,
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Follow by Email