Sunday, 15 April 2012

तेरे चेहरे में वो जादू है - रजनी

आज एक नया ब्लाग देखा । कोई रजनी जी हैं ? हैं तो ये संगणक विज्ञान की शिक्षिका । पर इनके कम्प्यूटर में कोई ऐसा साफ़्टवेयर इंस्टाल है । जिससे ये - कविता । कहानी । गजल । शेरो शायरी सब बना लेती हैं । रजनी जी अपने परिचय में कहती हैं - हजार रश्मियों से अकेली लड़ रही मै । रजनी हूँ पर मन का अँधेरा हर रही मैं । अपने नारी मन की उलझन विषय पर बनाये नये ब्लाग के बारे में रजनी जी कुछ यूँ बताती हैं - इस ब्लॉग पर नारी से सम्बन्धित उसके विचारों को प्रस्तुत करने की आज़ादी है । जिसमे नारी की सोच विचार उसकी खुशियाँ घुटन और समाज से क्या लिया । इन सभी को अपनी रचनाओं यथा कविता । ग़ज़ल । कहानी । लेखों के जरिये लिख सकती हैं ( सकते ) हैं । नारी मन का विश्लेषण एक नारी अच्छी तरह कर सकती है । फिर भी आप जो भी लिखें । वो महिला को आहत करनेवाले रचनाएँ ना हों । ना ही भद्दे शब्दों से बंधे । जो महिला की छवि को ख़राब करते हों । आपके विचारों की प्रतीक्षा सादर - रजनी नैय्यर मल्होत्रा । इनका नया ब्लाग है - नारी बेबसी मेरे मन की उलझन । ब्लाग पर जाने हेतु क्लिक करें 
रजनी जी के बारे में कुछ और भी -
और इनकी Industry है - Education और इनका Occupation है - मै संगणक विज्ञान की शिक्षिका हूँ । व लेखिका । और इनकी Location है - बोकारो थर्मल । रांची । झारखण्ड India रजनी जी अपने Introduction में कहती हैं -  हजार रश्मियों से अकेली लड़ रही मै । रजनी हूँ पर मन का अँधेरा हर रही मैं । मै रजनी मल्होत्रा विवाह के बाद

नैय्यर झारखण्ड के बोकारो थर्मल से । मेरी शिक्षा झारखण्ड एवं UP में पूरी हुई । इतिहास ( प्रतिष्ठा ) से B.A संगणक विज्ञान में B.C.A एवं हिंदी से B.ed इलाहाबाद से । मै संगणक विज्ञान की शिक्षिका हूँ । एक कवित्री । शायरा । एक लेखिका । मेरा लालन पालन झारखण्ड के रांची में । विवाह के बाद बोकारो थर्मल में हूँ । रांची इग्नोऊ से हिंदी में स्नातकोत्तर जारी है । मेरी प्रथम काव्य कृति - स्वपन मरते नहीं । सुरभि सलोनी पत्रिका में । वो बुरी औरत । धारावाहिक कहानी मेरे द्वारा लिखी जा रही । मै फेसबुक तथा ऑरकुट पर भी हूँ । और मेरे ब्लॉग निम्न हैं । जिनमे कविताओं । नज्मों । शेर शायरी एवं ग़ज़लों । लेखों का संग्रह है ।  इन ब्लाग्स पर जाने हेतु उसी नाम पर क्लिक करें ।
http://meremankiuljhan.blogspot.com/
http://shershayrimerikalamse.blogspot.com/
http://www.indiapoems.com
रजनी जी का Interests क्या है - पुराने गाने सुनना पसंद हैं । किसी भी प्रेरणा दायक किताब को पढना अच्छा लगता है । और इनकी Favourite Films है - हम साथ साथ हैं । वीर जारा । साजन । बागवान । ये फ़िल्में पसंद हैं । और इनका Favourite Music है - पसंदीदा संगीत । तेरे चेहरे में वो जादू है बिन डोर खिंचा आता हूँ । हमें और जीने की चाहत ना होती अगर तुम ना होते । आ बैठ मेरे पास तुझे 


देखती रहूँ । ना तू कुछ कहे । ना मैं कुछ कहूँ । ज़िन्दगी प्यार का गीत है । इसे हर दिल को गाना पढेगा । जाने क्यूँ लोग मुहब्बत किया करते हैं । किसी राह में किसी मोड़ पर । ये आँखें देख कर हम सारी दुनिया भूल जाते हैं । देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिले हुये । लगी आज सावन की फ़िर वो झङी है । तुमको मेरे दिल ने पुकारा बङे प्यार से । आवाज़ दे के हमें तुम बुलाओ । फूल आहिस्ता फेंको फ़ूल बङे नाजुक होते हैं । आ मेरे हमजोली आ खेले आँख मिचौली आ । यूँ ही तुम मुझसे बात करती हो या प्यार का कोई इरादा है ?
और इनकी Favourite Books हैं - धर्मवीर भारती की - गुनाहों का देवता । प्रेमचंद की कहानियां । शिव खेरा की पुस्तकें ।
- सभी जानकारी रजनी जी के ब्लाग से साभार ।
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Follow by Email