Friday, 11 March 2011

कमबख्त ये रिसेंट विजिटर्स गैजेट ! उफ़ ! कोई बताओ भाई ?


एक खिलाङी का प्रश्न - श्री राजीव जी,
विजेट " लिंक विद इन " के परिणाम बेहतर दिख रहे हैं । धन्यवाद आपको इस स्नेहिल सुझाव के लिये । लेकिन " रिसेन्ट विजिटर्स " में पूर्व फालोअर्स की मौजूदगी कतई दर्ज नहीं हो रही है । वो सिर्फ उन्हें ही दिखा पा रहा है । जो ब्लाग फालो करने आ रहे हैं । जबकि यदि ब्लाग पढने पुराने फालोअर्स आ रहे हैं । तो उन्हें भी इस विजेट में दिखना चाहिये । कृपया इस बाबत आवश्यक करेक्शन सुझावें ।
धन्यवाद सहित...।
एक अनाङी का उत्तर - नमस्कार श्री सुशील जी
मेरे ख्याल से ये सभी रजिस्टर्ड यूजर को दिखायेगा । चाहे वे आपके फ़ालोअर्स हों या न हों । चाहे उनका ब्लाग हो या न हो । पर मेरे अनुभव के अनुसार ये पुराने फ़ालोअर्स को लगभग 15 दिन बाद दिखाना आरम्भ करता है । ये गैजेट अपने ही अनुसार कार्य करता है । इसमें कोई करेक्शन नहीं कर सकते । ब्लाग वर्ल्ड काम पर प्रतिदिन ही फ़ालोअर्स और नान फ़ालोअर्स आते हैं । पर इसे लगाने के बाद धीरे धीरे इसने आज की तारीख 11 march 2011 तक इसने 16 फ़ालोअर्स शो किये हैं । अतः इसकी कार्यप्रणाली समझने के लिये थोङा इन्तजार कीजिये । मैं भी इसके बारे में इतना ही जानता हूँ । इस रीसेंट विजिटर्स के बारे में सभी जानकार ( मतलब जो भी जानकार हों ) भाई बहनों से निवेदन है कि हम ब्लाग अनाङियों की शंका समाधान करने की कृपा करें ।
चित्र साभार कार्टूनिस्ट श्री सुरेश शर्मा ब्लाग..कार्टून धमाका

आवश्यक सूचना

इस ब्लाग में जनहितार्थ बहुत सामग्री अन्य बेवपेज से भी प्रकाशित की गयी है, जो अक्सर फ़ेसबुक जैसी सोशल साइट पर साझा हुयी हो । अतः अक्सर मूल लेखक का नाम या लिंक कभी पता नहीं होता । ऐसे में किसी को कोई आपत्ति हो तो कृपया सूचित करें । उचित कार्यवाही कर दी जायेगी ।

Follow by Email